આજના જીરાના ભાવ જાણવા ક્લિક કરો – Jeera Price Today

આજના જીરાના ભાવ | Aaj Na Jira Na Bhav

આજ ના જીરાના ભાવ
તારીખ  = 18/01/2022
Rate for 20 Kgs.
એરંડા ભાવ જોવા અહીં ક્લિક કરો

કપાસ ભાવ જોવા અહીં ક્લિક કરો

જીરું ભાવ જોવા અહીં ક્લિક કરો

મગફળી ભાવ જોવા અહીં ક્લિક કરો

વરીયાળી ભાવ જોવા અહીં ક્લિક કરો

સોયાબીન ભાવ જોવા અહીં ક્લિક કરો

બટાકા ભાવ જોવા અહીં ક્લિક કરો

Jira Ka Bhav Aaj Ka भारतीय खाने की सबसे अलग विशेषता है कि इसमें बहुत सारी अलग अलग चीजों के सही इस्तेमाल से मनचाहा स्वाद पाया जाता है।

भारतीय व्यंजन न सिर्फ स्वाद में बेजोड़ होते हैं बल्कि अलग अलग प्रकार की सामग्री के सही संतुलन की वजह से स्वास्थ्यवर्धक भी होते हैं। भारत में मसालों के इस्तेमाल का कुछ अलग ही महत्व है। मसाले न सिर्फ स्वाद बढ़ाने का काम करते हैं बल्कि ये स्वास्थ्य के लिए भी बेजोड़ होते हैं।

जीरेAaj Ka Jira Ka Bhav में कई तरह के अलग अलग गुण छुपे हुए हैं. इरान में मिली व्‍यंजन पकाने की कुछ प्राचीन किताबों में भी जीरे का उल्‍लेख किया गया है। हालांकि, जीरे का इस्‍तेमाल सिर्फ खाना पकाने के लिए ही नहीं किया जाता है बल्कि स्‍वास्‍थ्‍यवर्द्धक एवं औषधीय गुणों के कारण पारंपरिक और आयुर्वेदिक औषधियों में जीरे का महत्‍वपूर्ण स्‍थान है।

Aaj Ka Jira Ka Bhav

पुराने समय में Jira Ka Bhav – जीरा का भाव का रोमन, ग्रीक और मिस्र संस्कृति का भी खास हिस्सा था। ये इतना खास था कि यह करंसी currency) के तौर पर इस्तेमाल किया जाता था। जीरे के आयुर्वेदिक उपयोग की पुष्टि के लिए अब कई अलग अलग शोध किए जा रहे हैं। यहां तक कि जीरे के बीजों को मोटापे और डायबिटीज के लक्षणों को कम करने में चिकित्‍सकीय रूप से प्रभावी पाया गया है। ऐसे में जीरा न केवल खाने के स्‍वाद को बढ़ाता है बल्कि सेहत को भी लाभ पहुंचाता है।

जीरे के बारे में कुछ तथ्‍य

  • वानस्‍पतिक नाम: क्‍यूमिनम सायमिनम
  • कुल: एपिएसी
  • सामान्‍य नाम: क्‍यूमिन, जीरा
  • संस्‍कृत नाम: जीरक
  • उपयोगी भाग: फल
  • भौगोलिक विवरण: जीरा मूल रूप से मिस्‍त्र से है लेकिन इसे चीन, मोरक्‍को और भारत में भी उगाया जाता है।
  • गुण: गर्म

जीरे का पौधा वार्षिक जड़ी बूटी है जो कम से कम 1 से 1.5 फीट की ऊंचाई तक बढ़ सकता है। जीरे का मुलायम तना शाखों से बहुत ज्‍यादा जुड़ा हुआ होता है। इसकी लंबी पत्तियां और सफेद या लाल रंग के छोटे फूल होते हैं जिसके कारण जीरे की शाखाओं पर झुंड में खिलते हैं। जीरे के बीज आकार में लंबे लेकिन अंडाकार होते हैं और उनकी सतह पर लकीरें होती हैं।

jeera ka bhav | aaj ka jeera ka bhav | jeera mandi bhav | jeera ka bhav aaj ka

Jira Ka Bhav Aaj Ka जीरा एक ऐसी फसल है जो सभी घरों के रसोईघर में पाई जाती है और एक मसाले के रूप में Jira Ka उपयोग किया जाता है, इसकी मांग पुरी दुनिया में है. जिसके कारण किसानों Jira Ke Bhav – जीरा के भाव की अच्छी कीमत मिलती है | जीरा की खेती और सभी तरह की खेती की अपेक्षा ज्यादा लाभदायक है | लेकिन जीरा की खेती में सही तरीके से मौसम , बीज , खाद, तथा सिंचाई की जानकारी नहीं रहने पर नुकसान भी उठाना पड़ता है |