PM Kisan Samman Nidhi Yojana List 2020

PM Kisan Samman Nidhi Yojana :- प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (पीएम-किसान) केंद्र सरकार द्वारा जिस किसान पर जमीन है उनको हर साल ६००० रु तीन अलग अलग हप्ते में
किसान के बैंक खाते में जमा किये जायेंगे। इस योजना के अंतर्गत हर साल केंद्र सरकार 8.35 किसानो को Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana(PM – KSNB) योजना का लाभ दे रही है.

हमने दूसरे आपको दूसरे आर्टिकल में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (पीएम-किसान) के बारे में विस्तार से बताया था. यदि आपने उस आर्टिकल को नहीं पढ़ा देखा तो यहाँ क्लिक करे. आज की पोस्ट में हम सिर्फ आपको ये बताएंगी की यदि आपको PM Kisan Samman Nidhi Yojana के पैसे मिले तो आपको क्या करना चाहिए। दोस्तों मेरा आपसे आवेदन है की आप पूरा आर्टिकल पढ़े.

यदि आपको पीएम – किसान योजना के पैसे अपने बैंक खाते में नहीं मिले तो आप लोग सबसे पहले अपने बैंक में जाके देख आये की आपके खाते में पैसे आये है की नहीं। नहीं आये तो आप लोग निचे के स्टेप्स फॉलो करे.

pm kisan amount not received
pm kisan payment not received
PM Kisan News

PM Kisan Amount Not Credited

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के पैसे यदि बैंक खाते में भी नहीं आये तो आप लोग आप लोगो को PM Kisan की ऑफिसियल साइट पर जाके अपना जिल्ला और गांव सेलेक्ट करके देख ले की आपका नाम है की नहीं यदि आपका नाम नहीं है तो आप PM Kisan website पर नया रजिस्ट्रेशन करले।

पीएम – किसान योजना में आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीको से आवेदन कर सकते हो. PM Kisan Samman Nidhi Yojana Online apply करने -के लिए आप लोगो को आधार कार्ड, बैंक पासबुक, एक ताजा फोटो और जमीन की ७-१२ नक़ल. ये सब दस्तावेज के साथ आप PM Kisan Samman Nidhi Yojana में online रेजिस्ट्रशन कर सकते हो.

यदि आपको ऑफलाइन आवेदन करना है तो आप अपने गांव के तलाटी मंत्री से मिलकर नया फॉर्म भर सकते है. कुछ बार किसान और डेटा एंट्री की भूल के कारण किसान को PM-KISAN योजना का लाभ नहीं मिल पाता। आपसे निवेदन है की यदि आपको एक भी हप्ता नहीं मिला और आपका नाम भी नहीं है तो आप लोग सीधा नया रेजिस्ट्रशन करे या फिर अपने गांव के तलाटी कम मंत्री से मिले।

किसान भाईओ यदि आपको कोई समस्या हो तो कमेंट करके जरूर बताये। आर्टिकल अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले जय जवान जय किसान।